Soch na sake by Arijit Singh

तैनू इतना मै प्यार करां 
एक पल विच सौ बार करां 
तू जावे जे मैनु छड्ड के 
मौत दा इंतज़ार करां 
कि तेरे लिए दुनिया छोड़ दी है 
तुझ पे ही सांस आ के रुके 
मैं तुझे इतना चाहता हूँ 
ये तू कभी सोच ना सके 
तेरे लिए दुनिया छोड़ दी है 
तुझ पे ही सांस आ के रुके 
मैं तुझे कितना चाहता हूँ 
ये तू कभी सोच ना सके 
--------------
कुछ भी नहीं है ये जहां
तू है तो है इसमें ज़िंदगी 
कुछ भी नहीं है ये जहां
तू है तो है इसमें ज़िंदगी 
अब  मुझको जाना है कहाँ 
के तू ही सफर है आख़री 
कि तेरे बिना जीना मुमकिन नहीं 
न देना कभी मुझको तू फासले 
मै तुझको कितना चाहती हूँ 
ये तू कभी सोच न सके 
तेरे लिए दुनिया छोड़ दी है 
तुझ पे ही सांस आ के रुके 
मैं तुझे कितना चाहता हूँ 
ये तू कभी सोच ना सके
---------------
आँखों की हैं ये ख़ाहिशें 
के चेहरे से तेरे न हटे 
नींदों में मेरी बस तेरे 
ख्वाबों ने ली हैं करवटें 
के तेरी ओर मुझको ले के चलें 
ये दुनिया भर के सब रास्ते 
मैं तुझे कितना  चाहता हूँ 
ये तू कभी सोच ना सके
तेरे लिए दुनिया छोड़ दी है 
तुझ पे ही सांस आ के रुके 
मैं तुझे कितना चाहता हूँ 
ये तू कभी सोच ना सके
-------------------

Post a Comment

0 Comments